मुड़-मुड़ कर ना देख

मुड़-मुड़ कर ना देख मुझे यूँ हँसते-हँसते;

अर्ज़ किया है;

मुड़-मुड़ कर ना देख मुझे यूँ हँसते-हँसते;

कहीं ऐसा ना हो मेरे दोस्त तुझे कह दें भाभी जी नमस्ते!..😜😜😜😜

Share this: